How to Choose Profitable Stocks with Example ? How to Get Rich From Stocks ? Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi By Philip Fisher.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1

दोस्तों आज के इस Blog Article में हम देखने वाले है How to Choose Profitable Stocks with Example ? How to Get Rich From Stocks ? Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi By Philip Fisher.

Common Stocks & Uncommon Profits Book Summary in Hindi.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi

How to Choose Profitable Stocks ?
How to Choose Profitable Stocks ?

जब भी बात होती है Stocks से पैसा कमाने की, तो सब हमें यही सलाह देते है कि Stocks को तब खरीदो, जब उसकी Price बहुत कम हो और वह हमें सस्ते में मिल रहे हो और उसे तब बेचो जब उसकी Price High हो।

तो हम इससे अच्छा खासा Profit कमा सकते है और यह Advice बहुत ही Obvious है।

But Problem तो तब होती है, जब Stock Market नीचे गिरता है और उस Share की Price भी कम होती जाती है, जिसमें हमने पैसा लगाया था।

और लोग डर के मारे अपने Shares को Sell करना Start कर देते है।

जब लोगों का पैसा लगा होता है Market में, तो वो सही से Decisions नहीं ले पाते है।

But क्या हो कि कभी आपको Stocks बेचने की जरुरत ही ना पड़े और तब भी आप पैसे कमाते रहो ?

क्या ऐसा Possible है ?

तो इसका जवाब है – हां !

Common Stocks and Uncommon Profits के Author – Philip Fisher बोलते है कि हमें ऐसे Stocks को Buy करना चाहिए, जिसे हमें कभी भी बेचने की जरुरत ही ना पड़े।

और हम उन Companies के द्वारा दिए गए – Dividends से इतने पैसे कमाते रहे कि हमारी पूरी Life इस Passive Income से ही निकल जाए।

और जब आप ऐसी 2 – 4 Companies को ढूंढ लेते हो, जो सालो साल Grow होती रहती है और अच्छा खासा Return देती रहती है, तो उसके बाद आपको फिर कभी Stocks को Buy करने की और Sell करने की जरुरत नहीं पड़ती है।

और Philip Fisher जो कि बहुत ही Famous Investor है और इस Book के Author भी।

वह इसी Technique का Use करते है और उन्होंने Motorola Company में 1954 में Invest किया था।

और उसके बाद उन्होंने उन Stocks को कभी नहीं बेचा और उससे Life Time तक Hold करके रखा। 

जब तक 2004 में उनकी Death ना हो गई क्योंकि वह Stock इतना Grow हो चूका था, तो उन्हें Sell करने की जरुरत ही नहीं पड़ी और इसलिए वह इतने अच्छे Investor है।

और Warren Buffet भी बोलते है कि उनके Investing का तरीका 85% Benjamin Grahm का है और 15% Philip Fisher का और Warren ने भी Philip Fisher से बहुत कुछ सिखा था।

तो आखिर ऐसे Stocks को ढूंढना कैसे जाए, जिन्हें खरीदने के बाद, हमें Life Time उन्हें कभी बेचने की जरुरत ही ना पड़े।

और यह सारी बाते आज हम “Common Stocks and Uncommon Profits’’ इस Book से देखेंगे।

How to Choose Profitable Stocks with Example

दोस्तों इन Important Lessons को End तक जरुर Read करें। How to Choose Profitable Stocks with Example ? Stock Market for Beginners.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi
Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi

1. The Scuttlebutt Method

अब हमें यह तो पता चल गया है कि अगर हम अच्छी Company में Invest कर देते है, तो हमें उन्हें सालों तक बेचने की जरुरत नहीं होगी।

But सवाल यह आता है कि हम अच्छी Companies को ढूंढे कहां से ?

उसके लिए Author हमें इस Method का Use करने के लिए बोलते है, जिसे उन्होंने नाम दिया था – The Scuttlebutt Method.

Author बोलते है कि आपको कोई अच्छी Company ढूंढने के लिए, कोई Investment Guru की जरुरत नहीं है।

आप कुछ ऐसे लोगों को ढूंढ सकते हो, जो उस Company से Directly Relate करते हो।

जैसे उस Company के Supplier, Customer, उनके Employees और आप उनसे उस Company के बारे में बहुत कुछ जान सकते हो।

जैसे कि हो सकता है कि आप किसी भी Company में Invest करने जा रहे हो और आपका कोई Relative उस Company में काम करता हो, तो आप उनसे Company के Culture के बारे में पूंछ सकते हो कि Company कैसी है ?

Company Future में क्या – क्या Products Launch करनी वाली है ?

या फिर Company अपनी Services और कहां तक Expand करने वाली है ?

यह सारी बाते आप उन लोगों से पूंछ सकते हो और अपने Decision ले सकते हो।

यहां तक कि Warren Buffet ने जब Apple Company में Invest किया था, तो उन्होंने इसके बारे में लोगों से ही सूना और पुछा था।

Warren बोलते है कि जब भी में अपने Great Grand Childern को घुमाने के लिए ले जाता था, तो वह लोग अपने साथ हमेशा iPhone लाते थे।

तो जब उन्होंने उनसे पुछा, तो उनका जवाब था कि वह iPhone के बिना रह नहीं सकते है।

और यहां तक कि जब Warren लोगों को देखते थे, तो हर कोई अपने iPhone से चिपका हुआ मिलता था।

और जब हर साल Apple नया iPhone Launch करता था, तो लोग भीड़ लगाकर उसे खरीदने के लिए तैयार रहते थे।

तो Warren लोगों से Feedback लेकर Apple Company में Invest किया था और यह Investment उनके लिए बहुत ही Profitable साबित हुआ।

इसलिए आप अपने आसपास देख सकते हो कि लोग किस Company के Products काम में ले रहे है ?

जैसे कि आप ज्यादातर Videos कहां पर Watch करते हो ?

YouTube पर, Right !

और आपके Phone में या तो iOS होगा, या फिर Android.

और I’m Sure कि आप Shopping के लिए Amazon Use करते होंगे।

और Movies के लिए Netflix.

तो जब आप इतनी सारी Companies के Products और Services Use करते हो और इन Companies के Founders से आप Inspire भी होते हो।

तो इनकी Growth का फायदा आप क्यों नहीं उठाते ?

अभी हम Indians Tesla Car नहीं चला सकते है, तो क्या हुआ ?

Tesla के Shares तो खरीद सकते है ना ?

I Know आप बोलोगे कि US Stocks में Invest करने पर बहुत सारे Charges और Commision Involved होंगे and Stocks भी Expensive है।

एक – एक Stock 1000 Dollars का होगा।

पर ऐसे भी Investing Apps Available है, जिससे आप Without Any Extra Charges US Stocks में Fractional Shares Buy कर सकते हो मतलब कि Stock का एक छोटा सा Part.

2. Don’t Overstress Diversification

हम हमेशा यही सुनते आए है कि हमें अपने Portfolio को हमेशा Diversify करके रखना चाहिए।

Don’t Put All Your Eggs in One Basket.

यह कहावत भी हम सुनते आए है।

But Fisher बोलते है कि यह Approach पूरी तरीके से सही नहीं है।

उनका मानना है कि हमें कुछ ही Companies को अपने Portfolio में Add करना है और उन्हें Closely Watch करना है।

क्योंकि अगर आप एक साथ बहुत सारी Companies को अपने Portfolio में डाल देते हो, तो उनमें से Max Companies तो ऐसी होंगी, जिनके बारे में आप अच्छे से जानते ही नहीं होंगे।

Fisher बोलते है कि हमें बस 8 – 10 Companies से ज्यादा आपको अपने Portfolio में Add नहीं करना है।

और वो बोलते है कि अगर मान लो कि आपके Portfolio में 10 Companies है और उनमें से 8 Companies एक ही Sector की है।

जैसे कि मान लो Banking Sector की है, तो यह Approach भी सही नहीं है।

और अगर आपके Portfolio में 10 Companies में से 10 की 10 अलग – अलग Sector की है, तो यह Approach भी सही नहीं है।

आपको जिस Industry में विश्वास है और आपने उस पर पूरी तरीके से Research कर रखी है।

तो अपने Portfolio का Weightage 60% तक होना चाहिए, बाकी 40% आप दुसरे Sector में Divide कर सकते हो।

और Fisher हमें बोलते है कि हमें ऐसी Companies में Invest करना है, जहां पर Growth अच्छी हो रही है।

क्योंकि अगर आप ऐसी जगह Invest करते हो, जहां पर Opportunity बहुत ही कम होती है।

तो कभी भी आप एक अच्छी Company को नहीं ढूंढ पाओगे क्योंकि आज India में 5000 से भी ज्यादा Companies Listed है।

तो आपके पास Opportunity तो बहुत ज्यादा है, But Time उतना नहीं है।

इसलिए हमें जो Companies लगती है कि Grow नहीं कर सकती, उन्हें Eliminate करते जाना है और अच्छी Growth Companies पर Focus करना है।

3. When To Buy and When To Sell

हम सबको पता है कि किसी भी Stocks को अगर हम तब खरीदते है, जब उसकी Intrinsic Value से कम में मिल रहा हो, तो वह एक अच्छा Time होता है।

But अगर आपको उस Company पर पूरा भरोसा है कि वह Future में अच्छा Perform करेगी, तो हमें फिर देरी नहीं करनी है, उसे खरीद लेना है।

इसे एक Real Life Example से समझते है।

Fisher बोलते है कि एक बार एक Investor एक High Growth Company के 100 Shares खरीदना चाहता था और उस दिन उस Share का Price 35.5 Dollars था।

तो उस Investor ने अपना आधा Dollar बचाने के लिए 35 Dollars पर अपना Order Place कर दिया कि जब Company का Share 35 Dollars पर आ जाएगा, तो उसको वह Shares मिल जाएंगे।

लेकिन उस दिन और उस दिन के बाद वह Shares कभी भी 35 Dollars पर आया ही नहीं।

जबकि कुछ सालों बाद उस Share का Price 500 Dollars तक चला गया और उसके बाद भी वह Company Grow हो रही थी।

तो उस Time पर उस Investor ने अपने आधे Dollar को बचाने के लिए अपना 46,000 Dollars का नुक्सान कर दिया।

इसलिए यहां पर हम सबके लिए एक Lesson है कि जब आप फैसला ले लेते हो, आपको पूरी तरीके से उस Company पर विश्वास हो जाता है कि वह Company Future में अच्छा करेगी।

तो आपको 200 – 400 Rs. बचाने के चक्कर में Wait नहीं करना है।

उसी वक्त उस Company के Shares को Buy कर लेना है।

और Fisher बोलते है कि वैसे तो देखा जाए कि किसी भी Company में Invest करने का कोई सही Time नहीं होता है।

क्योंकि वह एक अच्छी Company है, तो वह सालों साल तक चलती रहेगी और आपको Profit भी देती रहेगी।

But फिर भी हो सकता है कि किसी Company का Management अपनी Company के Improvement के लिए कुछ नए – नए Products पर Research कर रहा हो और उस Time पर उनका Profit इतना ज्यादा नहीं हो रहा हो।

क्योंकि वह Company Future के बारे में सोच रही है, But उनका Profit कम होने के वजह से हो सकता है कि उसके Share के Price कम हो सकते है।

तो उस Time पर आप उस Company में पैसा लगा सकते हो।

अब हम देखते है कि किसी भी Stocks को बेचने के हजारो Reasons हो सकते है।

जैसे कि कुछ Personal Reason Like – आपको एक नया घर लेना है और उसके लिए आपको पैसे चाहिए, या फिर कोई Emergency.

But हमें यह बात याद रखनी है कि हमें कभी भी उन पैसों को Invest नहीं करना है, जिनकी हमें अभी कुछ Time में जरुरत पड़ सकती है।

और खासकर Emergency के लिए तो हमारे पास अलग से Fund होना ही चाहिए, ताकि ऐसी Situation में हमें अपने Stocks को Sell करने की नौबत ना आए और भी दुसरे कारन हो सकते है।

जैसे कि Mistakes Made in Purchase.

हो सकता है कि आप Company में Invest करते Time गलती कर दी हो।

क्योंकि उस Time तो आपको लग रहा था कि वह सही Company है, Invest करने के लिए।

But बाद में आपको यह Realise हो जाता है कि आपने गलती कर दी है, तो उस Time पर आपको उस Company के Stocks को Sell कर देना चाहिए।

या फिर एक और कारण जब आप अपने Stocks को Sell कर सकते है, जब आपको उससे ज्यादा Attractive Opportunity मिल जाए।

हो सकता है कि आप उससे बेहतर Company को ढूंढ ले और आपको उस Company में नया Future दिख रहा हो और आप अपनी पुरानी Company के Shares बेच सकते है।

But यह तभी करना है जब आपको नयी Company पर पूरा भरोसा हो।

4. Dividends Don’t Matter Much

जब भी कोई Company अपने Share Holders को Profit का कुछ हिस्सा देती है, तो उसे Dividends कहां जाता है।

यह चीज Share Holders के लिए अच्छी चीज होती है क्योंको वह Stocks को बिना Sell किए पैसा Earn कर सकते है।

But Philip Fisher बोलते है कि Dividends इतना Matter नहीं करता है और जरुरी नहीं है कि जो Company Dividend नहीं देती है, वह अच्छी Company ना हो।

क्योंकि हो सकता है कि Company नए – नए Products को Launch करने के लिए उसकी Research पर पैसा खर्च कर रही हो।

या फिर Company Globally Expansion करने का सोच रही हो।

या फिर अपने Products को Sell करने के लिए Advertising पर खर्चा कर रही हो।

तो इसके बहुत सारे Reasons हो सकते है, जो Company अपने Business को Grow करने के लिए, पैसा Dividend के रूप में देने की बजाय Company के Growth पर खर्चा कर रही होती है।

जो कि Long Term में Share Holders के लिए फायदेमंद ही होने वाला है।

क्योंकि उस Company की Growth जितनी होगी, उनके Share Price उतने ही बढ़ते जाएंगे।

Example के लिए अगर आप कोई Business Open करते हो और आपको कुछ उसमें Profit होता है, तो आप या तो उस Profit को Party करने में, अपने Shopping में, या फिर घूमने फिरने में खर्चा कर सकते हो क्योंकि आखिर आपने Profit जो कमाया है।

But उसकी जगह अगर आप उस Profit को अपने Business को Grow करने के लिए लगाते हो और अपने Business को और Expand करते हो।

अच्छे – अच्छे Employees को Hire करते हो, तो शायद Future में आपको और भी ज्यादा फायदा होगा।

इसी तरह Companies भी अपने Growth पर खर्चा करती है, इसलिए हमें केवल Dividend के Base पर Invest नहीं करना है।

हमें बस केवल अच्छी Companies को ढूंढ ना है और उसे Invest करते जाना है।

तो अब इस पूरे Blog Article को Summarize किया जाए, तो सबसे पहले Author Philip Fisher बोलते है कि हमें ऐसे Stocks को खरीदना है, जो Growth Stocks हो और आगे बढ़ते जा रहे हो।

और उन्हें आपको कभी भी बेचने की जरुरत ना पड़े।

क्योंकि अगर आप सोचते हो कि आप Market को Time कर सकते हो कि कब Market Down जायेगा और कब Market Up जाएगा और आप आराम से Profit Earn कर लोगे।

तो यह एक गलत Approach है।

आप कभी भी Market को Time नहीं कर सकते हो।

इसलिए हमें अच्छे Business को ढूंढ कर, उसे Long Term तक Invested रहना है।

उसके लिए Author हमें ScuttleButt Method का Use करने को बोलते है।

इस Method में आप लोगों को देखकर कि लोग किन Companies को इस्तेमाल कर रहे है ?

उनके Products Daily Basis पर Use कर रहे है।

तो ऐसी Companies में आप Invest कर सकते हो और इस Method में आप उस Companies के Employees से, या फिर Supplier से, या फिर उनके Competetors से, उस Business के बारे में जानकारी ले सकते हो।

जिससे कि आपको जिस Business में पैसा लगाना है, आप उसे अच्छे से समझ सकते हो और उसके बाद उसमें Invest कर सकते हो।

और Author हमें एक और Advice देते है कि जब आपने किसी Company को Find कर लिया है और आप Sure हो कि वो अच्छा Perform करेगी।

तो आपको 2 – 4 Dollar बचाने के चक्कर में Wait नहीं करना है और जितना जल्दी हो सके उसे खरीद लेना है।

क्योंकि पता नहीं कि वापस आपको अच्छी Opportunity कब मिले।

इस तरह आपको एक अच्छे Business को ढूंढ कर, उसमें Long Term तक Invest करके, अच्छा Profit Earn कर सकते हो।

तो दोस्तों यह थे कुछ Amazing Lessons “Common Stocks and Uncommon Profits” इस Book से।

So दोस्तों, I Hope कि इस Blog Article से आपको कुछ ना कुछ सीखने को जरूर मिला होगा और अगर आपको यह Blog Article पसंद आया होगा।

तो इस Blog Article को Like करें और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक Share करें।

और इसी तरह के Blog Articles के लिए हमारे eworldhub.com Blog Website को Subscribe करना ना भूले।

और जो भी आपके मन में सवाल है आप नीचे Comment करके हमें पूछिए, हम उन Questions के Answers आपको जरूर देंगे।

और अगर आप किसी भी Book या Topic पर Blog Article चाहते हो, तो हमें Comment करके जरूर बताएगा।

मैं उस Topic पर Blog Article लिखने की पूरी कोशिश करूंगा।

तो मिलते है ऐसे ही एक और Interesting Blog में।

इस Blog को पूरा End तक पढ़ने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद।

Queries Solved in This Blog Article :

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi By Philip Fisher.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary.

Common Stocks and Uncommon Profits.

How to Choose Profitable Stocks with Example ?

How to Get Rich From Stocks ?

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary By Amol Bhawar.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Detail.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi.

Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary.

Common Stocks and Uncommon Profits.

Philip Fisher Common Stocks and Uncommon Profits.

Philip Fisher Best Finance Book Common Stocks and Uncommon Profits.

Common Stocks and Uncommon Profits in Easy Language.

Common Stocks and Uncommon Profits Best Finance Book.

Common Stocks and Uncommon Profits.

Common Stocks and Uncommon Profits in Detail.

Common Stocks and Uncommon Profits for Financial Freedom.

Common Stocks and Uncommon Profits Book.

Best Stock Market Book Common Stocks and Uncommon Profits.

Stock Market for Beginners Common Stocks and Uncommon Profits.

FAQ :

Who is the Author of Common Stocks and Uncommon Profits Book ?

Philip Fisher is the Author of Common Stocks and Uncommon Profits Book.

What is Stock Market ?

Stock Market यानी शेयर बाजार।

एक ऐसा मार्केट है जहां पर BSE या NSE भारतीय स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियों के शेयर ट्रेड (खरीदे और बेचे) जाते हैं।

शेयर मार्किट के द्वारा एक आम निवेशक भी निफ़्टी या सेंसेक्स की टॉप कंपनियों में पैसा निवेश करके शेयर होल्डर बन सकता है।

अन्य Articles पढ़े :

4 Core Principles of Share Market | Learn Share Market for Beginners | Unshakeable Book Summary in Hindi By Tony Robbins.

How to Invest in Share Market ? Share Market for Beginners | Rules of Investing | Rule #1 Book Summary in Hindi By Phil Town.

कम Time में अमीर बनना सीखो | Leverage Income क्या है ? Unlock It Book Summary in Hindi By Dan Lok.

पैसे के 9 Rules | 9 Rules of Money | Money Game Rules सीखो और अमीर बन जाओ।

चालाकी से अमीर बनना सीखो | Top 5 Lies Which Common Man Thinks About The Rich Person | Everyday Millionaires Book Summary in Hindi By Chris Hogan.

पैसे के 5 नियम | Most Important 5 Rules of Money | You are a Badass at Making Money Book Summary in Hindi By Jen Sincero.

अपने पैसों को Save करना सीखो | 5 Rules of Saving Money | How to Save Money & Achieve Financial Freedom.

Dividend से अमीर होना सीखिए | What is Dividend and How Dividend Works ? Dividend Investing For Beginners in Hindi.

Successful Investor कैसे बने ? 4 Imp Rules of Investing | The Behavioral Investor Book Summary in Hindi By Daniel Crosby.

Investing & Stock Market से अमीर बनना सीखो | Learn Invest & Stock Market | Learn to Earn Book Summary in Hindi By Peter Lynch.

Stock Market से पैसे कमाना सीखो | How to Invest in Stock Market in Your 20’s ? 6 Important Rules of Investing in Hindi.

What’s your Reaction?
+1
30
+1
24
+1
13
+1
0
+1
20
+1
0

8 thoughts on “How to Choose Profitable Stocks with Example ? How to Get Rich From Stocks ? Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi By Philip Fisher.”

Leave a Comment