अमीर vs गरीब | 4 Rules of Money | Let’s Talk Money Book Summary in Hindi By Monika Halan.

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
11

दोस्तों आज के इस Blog Article में हम देखने वाले है अमीर vs गरीब। 4 Rules of Money. Let’s Talk Money Book Summary in Hindi By Monika Halan.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi

4 Rules of Money in Hindi
4 Rules of Money in Hindi

जब भी हम कोई Personal Finance Book की बात करते है, तो वह Max Books US या UK Author के द्वारा लिखी गयी होती है।

और वह Authors अपने Country के हिसाब से हमें Advice देते है।

But आज हम Monika Halan के द्वारा लिखी गयी Book “Let’s Talk Money” के बारे में बाते करेंगे, जो पूरी तरह से Indian’s के लिए लिखी गयी है।

और उसमें सारी Personal Finance और Investing से Related बाते बताई गई है, वो हम Indian’s के लिए बहुत ही Important है।

तो आज मैं इस Book से 4 ऐसे Important Lessons बताने वाला हूं, जिन्हें हम Step By Step देखेंगे।

तो सबसे पहले हम देखेंगे कि हमें किस तरह अपने पैसों को Manage करना है ?

उसके बाद हमें अपने Protection के लिए अलग से Fund इकठ्ठा करके रख देना है और फिर हम किस तरह अपने पैसों को Invest कर सकते है ?

जिसके लिए Author हमें Stock Market Suggest करती है।

जिससे कि हम अच्छा खासा Return पा सके।

तो यह सारे Lessons आज हम इस Book से सीखेंगे।

तो इसलिए इस Blog Article को End तक पूरा Read करें।

तो चलिए शुरू करते है।

4 Rules of Money for Financial Freedom

दोस्तों इन 4 Rules को End तक जरुर Read करें। 4 Rules of Money in Hindi. How to Achieve Financial Freedom ?

Let's Talk Money Book Summary in Hindi
Let’s Talk Money Book Summary in Hindi

1. The Money Box

हम कभी भी पैसों के बारे में बात नहीं करते है क्योंकि यह Topic हमारे लिए Uncomfortable होता है।

और क्योंकि हम पैसों को Disscuss नहीं करते है, इसलिए हम पैसों को सही से Manage भी नहीं कर पाते है।

इसलिए Author हमें Suggest करती है कि हमें हमारी Financial Life को एक Money Box की तरह Treat करना है।

और इस Money Box में जो आप अपनी Income कमाते हो, अब वह Job करके कमाते हो या फिर आपका कोई Business है।

उस Income को आपको अपनी Money Box में डालना है और उस Money Box से आप अपने लिए खर्चे करोगे और वही Money Box आपके Future में Investment और Emergency के लिए भी काम आएगा।

आपने बहुत से लोगों से सूना होगा कि वह अक्सर यह बोलते है कि उन्हें पता ही नहीं रहता है कि उनके पैसे कहां पर चले जाते है ?

और मेरे पास तो कुछ भी पैसा Save नहीं है।

इसलिए Author बोलती है कि हर इंसान के पास पैसों को Save करने की Opportunity होती है।

वह चाहे सब्जी बेचने वाली Aunty हो, या फिर कोई Business Tycoon, जो बड़ी सी गाड़ी चलाता है।

बस हमें सही नजरिए से देखना होता है कि हम अपने पैसों के साथ कैसे Behave कर रहे है ?

इसलिए इस Problem के Solution के लिए Author हमें 3 तरह के Money Box को Create करने को बोलती है और हमें उन्हें 3 अलग – अलग नाम देने है।

Create 3 Types of Money Box

1. Income Account

2. Spended Account

3. Invested Account

जैसे कि इनके नाम से ही पता चल रहा है

1. Income Account

इस Box में हम अपनी Salary से या फिर Business से जो भी Income हो रही है, वह हम इसमें डालेंगे।

ना केवल Salary, आपको साल के जितने भी Bonus मिलते है, या फिर आपको अपने Parents या Relatives से जो भी Gift के रूप में पैसे मिलते है।

या फिर आपकी कोई FD Mature हो गयी है और अगर आपने कोई Property Rent पर दे रखी थी, उससे अगर आपको कोई Rent आता है।

या फिर किसी Stock या Mutual Fund से आपको Dividend आ रहा है, या फिर आपने किसी दोस्त को पैसे दे रखे थे, वह आपको पैसे लौटा देता है।

तो इन सबसे जो भी पैसा हमारे पास आता है, वह सारा पैसा हम अपने Income Account में डालेंगे।

अब उसमें से आपके महीने का खर्चा जितना भी है, उस सारे Amount को हम अपने दुसरे Box Spended Account में डालेंगे।

2. Spended Account

मान लो कि आपकी Monthly Income 1 लाख Rs. है।

तो वह 1 लाख Rs. आपके Income Account में आएंगे और आपके 1 महीने का खर्चा 60 हजार है।

तो जैसे ही आपके Account में 1 लाख Rs. आएंगे, उस वक्त आपको उसमें से 60 हजार Rs. अपने Spended Account में डाल देने है।

अब Spended Account वो होगा, जहां से आप अपने खर्चे करोगे।

जैसे कि घर का Rent देना, Light पानी का Bill देना, अपने घर या अपनी Car की EMI Pay करना, अपनी खाने – पीने की चीजों पर खर्चा करना, Petrol का खर्चा, अपने Credit Card का Bill etc.

जितने भी खर्चे है, उनके लिए आप अलग से पैसे Spended Account में डाल देंगे।

और अब इसके बाद जो पैसा बचेगा, जैसे कि आपकी Income 1 लाख Rs. है और आपका खर्चा हुआ 60 हजार Rs.

तो आपके Income Account में बचेंगे 40 हजार Rs.

तो आपको बचे हुए 40 हजार Rs. को अपने तीसरे Box, जो कि है Invested Account उसमें डाल देना है।

और आप अपने Income Account में केवल Minimum Balance ही रखोगे।

3. Invested Account

बाकी बचा सारा पैसा Invested Account में Transfer कर दोगे और इस Invested Account से आप पैसों को Invest करोगे।

अब चाहे आप इन पैसों को Stocks में लगाओ, Bonds में लगाओ, या फिर Mutual Funds खरीदो, या फिर अपने लिए कोई Emergency Fund Create करोगे।

वह सारी चीजें आप इस Invested Account से करोगे।

और जब आप ऐसा करने लग जाओगे, तो आप सही तरीके से पैसों को Track कर पाओगे।

आपको पता होगा कि आपका पैसा कहां पर जा रहा है ?

किधर को जा रहा है ?

और आपकी Financial Life सही Direction में जाने लग जाएगी।

और फिर तब आप यह नहीं कहोगे कि मेरा पैसा जाता कहां है ?

मुझे तो पता ही नहीं चलता।

और ऐसा करना Start में हो सकता है कि आपको थोड़ा Difficult लगे।

But जब आप इन सबको सही से Manage करने लग जाओगे, तब आप देखोगे की आप कितना Savings करने लग गए है ?

और ना केवल Savings, आप फालतू जगहों पर भी खर्चा करना बंद कर चुके होंगे।

2. Emergencies Need a Fund

Author बोलती है कि

“Keeping Money Ready For an Emergency is Important.”

“Not Only Do You Not Have To Worry About The Money When You Need It, But It Also Frees Up Money For Long Term Investments.”

इसका मतलब यह है कि जब आप अपनी Emergency के लिए पैसों को बचाकर रखते हो, तो ना केवल आप Tension से दूर होते हो कि आपके Emergency के Time पर हम पैसे कहां से लाएंगे ?

जबकि साथ ही साथ आप अपने कुछ ऐसे पैसों को Free कर दोगे, जिनसे आप Long Term के लिए Investment कर सकते हो।

क्योंकि बहुत से ऐसे लोग होते है, जो लाख Rs. अपने Savings Acc में रख देते है, जहां पर उन्हें बहुत ही बेकार Return मिलता है।

और अगर उनसे पुछा जाए कि आप ऐसा क्यों करते हो, तो उनका जवाब होगा कि यह पैसा हमारी Emergency में काम आएगा।

क्योंकि अब उन्हें कोई Idea ही नहीं होता है कि उन्हें Emergency के लिए कितना पैसा रखना है ?

तो वो बस अपने सारे पैसों को ही रख देते है।

जबकि उन्हें केवल जितनी जरुरत Emergency में पड़ सकती है, उतना ही रखना है बाकी पैसों को उन्हें काम पर लगाना है, यानी कि Invest करना है।

अब सवाल आता है कि Emergency होती क्या है ?

और उनसे कैसे Deal किया जाए ?

Author के According Emergency 2 तरह की होती है।

There are Two Types of Emergency

1. Planned Events

2. Unplanned Events

आप अपनी Car के बारे में सोचो, आपको पता है कि आपकी Car की Service Due चल रही है।

तो Car की Service में पैसा लगने वाला है और अगले 7 – 8 सालों में आपको एक नई Car की भी जरुरत पड़ेगी।

तो यह सारे चीजें Planned है।

और हमारी Life में बहुत सारे Planned Expenses होते है, जैसे कि Car खरीदना, अपने नए घर के लिए Down Payment रखना, या फिर किसी Foreign Country में Holiday के लिए जाना।

तो यह सारी चीजें हमें पता होती है कि Future में इन चीजों पर खर्चा होने वाला है।

But इसके आलावा हमारी Life में कुछ ऐसे Expenses आ जाते है, जिनके बारे में हमने कोई Planning ही नहीं की होती है।

जैसे कि अपनी Car का Accident हो जाना, अचानक से कोई ऐसी बीमारी का आ जाना, जिसपर काफी खर्चा हो जाए।

या फिर किसी कारण से आपका Boss आपको Job से नीकाल दे।

या फिर जैसे 2020 का Pandemic जैसी Situation, जिसके लिए शायद कोई भी तैयार नहीं था।

तो यह सारे Events Unplanned होते है।

और इसी कारण से हमें Emergency Fund की Need होती है।

और इस Fund को आप केवल Unplanned Events में ही काम में ले सकते हो।

उसके आलावा इन्हें आपको हाथ भी नहीं लगाना है।

अब यह सवाल आता है कि हम कितना Fund Emergency के लिए रखे ?

तो आप 6 महीने से लेकर 2 साल तक का Emergency Fund अपने लिए अलग से रख सकते हो।

But यह सब आपके Personal Situation पर Depend करता है कि आपको कितना Fund रखना चाहिए ?

But At Least आपके पास 6 Months के Expenses जीतना Fund तो अलग से होना ही चाहिए।

जिससे आप जरुरत पड़ने पर काम में ले सको।

3. Building Your Protection

जब भी हमें Viral Fever होता है, तो उस वक्त हम अपनी Cost के बारे में ज्यादा नहीं सोचते है।

क्योंकि हमें पता है कि उसमें ज्यादा पैसा खर्च नहीं होने वाला है और इतना तो हम Afford कर ही लेंगे।

और जब बात होती है कोई Serious बीमारी की, जैसे कि Surgery, Liver Infection, या फिर कोई बड़ी बीमारी।

इन सब में हमारा काफी पैसा खर्च हो जाता है।

और यहां तक कि हमारी Major Savings भी कुछ ही दिनों में Medical के Bill को Pay करने में निकल जाती है।

इसलिए इस Book की Author बोलती है कि अगर क्या हो कि हमारी सारी यह Fees कोई और Pay कर दे तो कितना अच्छा होगा ?

और उसके लिए आपके पास एक अच्छा Medical Insurance होना भी बेहद जरुरी है।

एक अच्छा Medical Cover Insurance Cover ले लेते है, तो हमें फिर पता है कि हमारी Major Savings इसमें नहीं जाने वाली है और एक बड़ी Emergency को Insurance Company Cover कर लेगी।

और Author Suggest करती है कि अगर आपका Office भी आपके Medical को Cover करता है, तब भी हमें हमारी तरफ से एक Insurance Cover लेना जरुरी है।

Author बोलती है कि हमें Medical Cover के साथ – साथ एक Life Cover Insurance भी साथ में लेना चाहिए।

क्योंकि कल अगर आपको कुछ हो जाए, तो आपकी Family को एक Insurance Cover मिल जाएगा और अगर आप घर में अकेले पैसे कमाने वाले हो, तो फिर तो Life Cover आपके लिए बिलकुल जरुरी है।

इस तरह आप एक Medical Cover लेकर, एक Life Cover लेकर, अपने आपको किसी भी Emergency के लिए तैयार रख सकते हो।

साल के कुछ हजार रूपए आपके आनेवाले लाखों रूपए बचा सकते है।

4. Finally We are Investing

हमें पता है कि Investing करना कितना Important है, But फिर भी हम Investing नहीं कर पाते है।

क्योंकि उसके कई सारे Reasons हो सकते है।

जैसे पैसों का ना होना, हमें चिंता रहती है कि कई हम पैसे गवां ना बैठे, या फिर हमें पता ही नहीं है कि Invest कहां पर करना है ?

और यह सब Excuses हम अपने आपको देते रहते है।

Author के According आपको जितना जल्दी हो सके Investing Start कर देनी चाहिए।

अगर आप महीने के 1000 Rs. से भी Start करोगे, तो आप साल के 12,000 Rs. Invest कर चुके होंगे।

But बहुत से लोगों का सवाल होता है कि हम Invest करे कहां पर ?

तो Author के According सबसे Best जगह Invest करनी कि जो है वह है Stock Market.

यानी आप Equity में Invest कर सकते हो, But जब बात Share Market की आती है, तो लोगों का यह Perception बना हुआ है कि Stock Market तो एक Gambling है।

जिसमें आपका Luck चला तो आप अमीर और नहीं चला तो आप बर्बाद।

But यह Aproach सही नहीं है।

Stock Market कोई Instant Noodles बनाने वाला काम नहीं है।

जबकि यह तो एक ऐसी Dish है जिसे आप धीरे – धीरे पकाते हो और उसका स्वाद लेते चले जाते हो।

Equity में Invest करने का मतलब आप एक Business में पैसा लगाते हो।

तो यह काम कैसे करता है इसके लिए हमें एक Detail Example से उसे समझते है।

मान लो कि आपका एक दोस्त है – जिसका नाम है Rahul.

Rahul – Delhi में रहता है।

और वह Delhi के सबसे Best Burger बनाता है।

But उसकी एक छोटी सी Stall है।

जिसमें वो Burger बेचता है और काफी लोग उसका Burger खाने आते है।

तो अब Rahul सोचता है कि उसे अपना Business को और बढ़ाना चाहिए।

तो वह Delhi के कुछ और Areas में भी अपनी 5 नयी Shop Open करता है।

क्योंकि अब उसने अपना Business बढ़ा लिया है, तो उसके Expenses भी बढ़ गए है।

उसे अब Rent देना पड़ता है, नए – नए लोगों को Hire करना पड़ता है।

इसके लिए उसे 30 लाख Rs. की जरुरत है।

अब वह चाहे तो Bank से Loan ले सकता है।

अब आपको उसका Business काफी अच्छा लग रहा है।

तो आप उसके Business में पैसा Invest करना चाहते हो।

तो आप अपने साथ 3 और दोस्तों को भी Rahul के Business में Invest करने के लिए मना लेते हो।

तो आप और आपके 3 दोस्त मिलकर Rahul के Business में 5 लाख Rs. Per Person Invest करते है।

यानी कि आप 4 ने मिलकर Total 20 लाख Rs. Rahul के Business में Invest किए है और Rahul खुद 10 लाख Rs. Invest करता है।

अब अगर हम सबका एक – एक Share Count कर ले, तो आप 4 को 1 – 1 Share मिलता है और जैसे कि Rahul ने आप लोगों से Double Invest किया है, तो Rahul को 2 Share उस Business में मिलते है।

तो इस तरह उस Business के Total 6 Shares हो जाते है।

अब साल के End में उस Business से Total 12 लाख का Profit होता है।

तो हर एक Share का Profit होता है 2 लाख Rs.

अब आप लोग उस Profit को नहीं लेते हो और वापस से उसी Business में Re-Invest कर देते हो।

और Daily में और भी नए – नए Shops को Open कर देते हो।

और दुसरे साल का Profit होता है 20 लाख Rs.

अब आपका एक दोस्त विदेश जा रहा है, तो वह अपना हिसा बेचना चाहता है।

अब उसने 5 लाख Rs. उस Business में लगाए थे, तो अब उसे 5 लाख ही Rs. मिलेंगे या उससे ज्यादा ?

Obvious है कि Business ने अच्छा Profit Earn किया है तो उससे ज्यादा ही पैसे मिलेंगे।

तो आप Calculate करते हो और आप उसके हिस्से के लिए उसे 15 लाख Rs. दे देते हो।

यानी कि आपके दोस्त ने लगाए थे 5 लाख Rs. और उसे Total मिले 15 लाख Rs.

यानी कि आपके दोस्त ने 10 लाख का Profit कमाया।

अब आप उस Business में Total 4 Partner बचे हो और आप लोग सोचते हो कि हमें अपने Business को अब Delhi में नहीं रखना है बल्कि बाकी के Metro Cities में उसे Expand करना है।

उसके लिए आपको 10 Crore Rs. की जरुरत है।

तो अब आप लोगों के पास Again 2 Options है।

या तो आप Bank से Loan ले सकते हो, या फिर आप चाहो तो उस Company को List कर सकते हो।

यानी कि जब आपकी Company List हो जाएगी, तो कोई भी आपकी Company का 1 Share खरीद सकता है और अब जो आपके 1 Share का Price था 5 लाख Rs. वह नहीं रहेगा।

आप उसे छोटे – छोटे हिस्सों में Divide कर दोगे।

जैसे कि 10 Rs. – 20 Rs. इस तरह।

जैसे कि हर कोई आपके Business में एक छोटे से Amount से जुड़ सकता है।

इस तरह आप अपनी Company को List करके पैसे इकठ्ठा कर सकते हो।

और बाकी की Cities में अपनी Shops को Open कर सकते हो।

तो इस तरह एक Business Stock Market में List होता है और लोग उसमें Invest करते है।

इसलिए Author हमें बोलते है कि हमें Business को समझकर उसमें Invest करना चाहिए।

और अगर आप एक अच्छा Business Choose करते हो, तो आप Easily अच्छा Return Generate कर सकते हो।

इसलिए Author के According Stock Market एक बहुत ही अच्छा Option है, जो आपकी Wealth को बहुत ही ज्यादा बढ़ा सकता है।

तो दोस्तों यह थे 4 Important Lessons – Monika Helan की “Let’s Talk Money” इस Book से।

जिनका Use करके हम पैसों को अच्छे से समझ सकते है और अपनी Wealth को और भी बढ़ा सकते है।

So दोस्तों, I Hope कि इस Blog Article से आपको कुछ ना कुछ सीखने को जरूर मिला होगा और अगर आपको यह Blog Article पसंद आया होगा।

तो इस Blog Article को Like करें और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक Share करें।

और इसी तरह के Blog Articles के लिए हमारे eworldhub.com Blog Website को Subscribe करना ना भूले।

और जो भी आपके मन में सवाल है आप नीचे Comment करके हमें पूछिए, हम उन Questions के Answers आपको जरूर देंगे।

और अगर आप किसी भी Book या Topic पर Blog Article चाहते हो, तो हमें Comment करके जरूर बताएगा।

मैं उस Topic पर Blog Article लिखने की पूरी कोशिश करूंगा।

तो मिलते है ऐसे ही एक और Interesting Blog में।

इस Blog को पूरा End तक पढ़ने के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यवाद।

Queries Solved in This Blog Article :

अमीर vs गरीब ?

4 Rules of Money.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi By Monika Halan.

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary in Detail.

Let’s Talk Money Book Summary with Practical Example.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi By E-World Hub.

How to Achieve Financial Freedom By Let’s Talk Money Book Summary ?

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary in Easy Language.

How to Get RIch Fast ?

How to Achieve Financial Freedom ?

Let’s Talk Money Book Summary By Monika Halan.

Monika Halan Let’s Talk Money Book Summary.

Author Monika Halan Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi.

Explanation of Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary By Amol Bhawar.

Let’s Talk Money Book Summary with Best Examples.

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary Best Financial Book.

Let’s Talk Money Book Summary with Real Life Examples.

Let’s Talk Money Book Summary for Financial Freedom.

How to Become a Millionaire By Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary in Easy Language.

Let’s Talk Money Book Summary By Monika Halan.

Let’s Talk Money Book Summary with Practical Examples.

Let’s Talk Money Book Summary By Author Monika Halan.

Let’s Talk Money Book Summary.

Let’s Talk Money Book Summary Best Financial Book.

Let’s Talk Money Book Summary in Hindi.

FAQ :

अन्य Articles पढ़े :

Millionaire and Billionaire बनना सीखो | Step By Step Guide to Become a Rich Person | How to Get Rich Fast with Practical Examples ?

Internet का Use करके अमीर बनना सीखो | Assets That Make You Rich | The Almanack of Naval Ravikant Book Summary in Hindi By Eric Jorgenson.

How to Choose Profitable Stocks with Example ? How to Get Rich From Stocks ? Common Stocks and Uncommon Profits Book Summary in Hindi By Philip Fisher.

4 Core Principles of Share Market | Learn Share Market for Beginners | Unshakeable Book Summary in Hindi By Tony Robbins.

How to Invest in Share Market ? Share Market for Beginners | Rules of Investing | Rule #1 Book Summary in Hindi By Phil Town.

कम Time में अमीर बनना सीखो | Leverage Income क्या है ? Unlock It Book Summary in Hindi By Dan Lok.

पैसे के 9 Rules | 9 Rules of Money | Money Game Rules सीखो और अमीर बन जाओ।

चालाकी से अमीर बनना सीखो | Top 5 Lies Which Common Man Thinks About The Rich Person | Everyday Millionaires Book Summary in Hindi By Chris Hogan.

पैसे के 5 नियम | Most Important 5 Rules of Money | You are a Badass at Making Money Book Summary in Hindi By Jen Sincero.

अपने पैसों को Save करना सीखो | 5 Rules of Saving Money | How to Save Money & Achieve Financial Freedom.

Dividend से अमीर होना सीखिए | What is Dividend and How Dividend Works ? Dividend Investing For Beginners in Hindi.

Successful Investor कैसे बने ? 4 Imp Rules of Investing | The Behavioral Investor Book Summary in Hindi By Daniel Crosby.

Investing & Stock Market से अमीर बनना सीखो | Learn Invest & Stock Market | Learn to Earn Book Summary in Hindi By Peter Lynch.

What’s your Reaction?
+1
15
+1
20
+1
22
+1
0
+1
25
+1
0